Recents in Beach

header ads

UMANG App क्या है, उमंग ऐप के नए फीचर का इस्तेमाल कैसे करें - Movierulz

UMANG App क्या है

नमस्कार दोस्तों आज हम हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से आपको UMANG App की नई सर्विस के बारे में बताएंगे। UMANG App क्या है, और उमंग ऐप में ईपीएफ ग्राहकों के लिए योजना प्रमाणपत्र वाली कौन सी नई सर्विस शुरू की जा रही है। साथ ही इससे लोगों को किस प्रकार फायदा होगा।  

अगर आपको इसके बारे में कोई विशेष जानकारी नहीं है, तो आप हमारी इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक पढ़ते रहिए। हम आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से उमंग ऐप की इस नई सर्विस के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं। 

उमंग ऐप क्या है -

उमंग ऐप को सबसे पहले 2017 के नवंबर माह में लॉन्च किया गया था। यहां पर कई ग्राहकों को कई सरकारी स्कीमों की सेवाएं मिलती है। लेकिन ज्यादातर लोग ईपीएफओ से जुड़ी सेवाओं के लिए ही इस ऐप का इस्तेमाल करते हैं। अभी उमंग ऐप को भारत में 13 भाषाओं में उपलब्ध कराया गया है।

UMANG यानि यूनिफाइड मोबाइल ऐप्लिकेशन फॉर न्यू-एज गवर्नेंस को ईपीएफओ ग्राहकों द्वारा काफी पसंद किया जाता है। क्योंकि कोरोना पांडेमिक के दौरान इपीएफ कस्टमर घर बैठे ही उमंग ऐप के जरिए सर्विसेज का फायदा उठा रहे हैं। 

उमंग ऐप पर ईपीएफ से जुड़ी हुई 16 सेवाएं तो पहले से ही उपलब्ध हैं। लेकिन अभी इसमें एक नई सर्विस को भी जोड़ा जा रहा है। 

उमंग ऐप की नई सर्विस क्या है -

उमंग ऐप में इस नई सर्विस के आने से ईपीएफ ( कर्मचारी पेंशन योजना ) सदस्य, कर्मचारी पेंशन योजना 1995 के तहत योजना प्रमाणपत्र के लिए इस ऐप से भी अप्लाई कर सकेंगे। जो लोग अपना इपीएफ में किया गया योगदान वापस ले लेते हैं। 

लेकिन रिटायरमेंट की उम्र होने पर पेंशन लाभ हासिल करने के लिए ईपीएफओ के साथ ही अपनी सदस्यता भी बरकरार रखना चाहते हैं। उन्हीं लोगों के लिए यह योजना प्रमाण पत्र होता है।

उमंग एप की नई सर्विस का फायदा -

श्रम और रोजगार मंत्रालय के अनुसार उमंग ऐप में इस नई सर्विस के जुड़ जाने से ईपीएफ अकाउंट होल्डर द्वारा अपनी सदस्यता खत्म किए बिना ही ईपीएस योगदान वापस लिया जा सकता है। 

योगदान वापिस लेने के बाद भी ईपीएस अकाउंट होल्डर्स को पेंशन का बेनिफिट मिलेगा। लेकिन कोई भी मेंबर तभी अपनी पेंशन ले सकता है, जब वो कम से कम 10 सालों के लिए कर्मचारी पेंशन योजना (ईपीएस), 1995 का सदस्य रहा हो।

सर्टिफिकेट का फायदा -

जब भी उमंग एप के यूजर्स कोई नई नौकरी शुरू करते हैं तो इस सर्टिफिकेट से ये सुनिश्चिक हो जाता है कि पिछली पेंशन वाली सर्विस को नए कंपनी के साथ पेंशन वाली सर्विस में शामिल कर लिया जाए। इससे पेंशन लाभ में तो बढ़ोतरी होती ही है, साथ ही लाभार्थी की मृत्यु होने पर परिवार को पेंशन मिल जाती है।

ऑफिस के चक्कर से मुक्ति -

उमंग एप की इस नई सर्विस के कारण अब उमंग ऐप के यूजर्स इस स्कीम सर्टिफिकेट के लिए काफी आसानी से अप्लाई कर सकेंगे। क्योंकि इसमें यूजर्स को ईपीएफओ ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने पड़ते हैं, कागज़ी झंझट से दूर रहते हैं। जिससे उनके कीमती समय की बर्बादी नहीं होती है।

करोड़ों लोगों का फायदा -

ईपीएफओ के अनुसार उमंग एप कि इस नई सर्विस से करीब 5 करोड़ लोगों को डायरेक्ट बेनिफिट मिलेगा। उमंग ऐप पर उपलब्ध सभी सर्विसेज़ का लाभ प्राप्त करने के लिए यूजर्स के पास एक्टिव यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) और ईपीएफओ में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर का होना बहुत आवश्यक है। 

निष्कर्ष 

हमने आपको आज के इस आर्टिकल के माध्यम से UMANG App के बारे में बताया है, कि UMANG App क्या है, और उमंग ऐप में ईपीएफ ग्राहकों के लिए योजना प्रमाणपत्र वाली नई सर्विस शुरू की जा रही है। साथ ही इससे लोगों को किस प्रकार फायदा होगा। इसी प्रकार के टेक्नोलॉजी से रिलेटेड और अधिक जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट के साथ जुड़े रहे।

Post a comment

0 Comments